डीएच पोकर टेक्सास होल्डम

Publishing time:2021-10-27 14:21:18

lovebet किलविनिंग डीएच पोकर टेक्सास होल्डम 10cric साइन अप बोनस,casumo गेम,लियोवेगास साइन अप ऑफर,lovebet कोलोराडो,lovebet नंबर गेम,lovebet जाम्बिया प्रोमो कोड,क्या ऑनलाइन कैसीनो कानूनी हैं,बैकरेट फ्री क्रैक प्लग-इन,बैकारेट वेगास,भारत में सट्टेबाजी लाइसेंस,कैसीनो बीच बोर्डवॉक,कैसीनो वेगास,क्लासिक रम्मी टाइल गेम,क्रिकेट किट की कीमत,ई जोन स्पोर्ट्स कोलार,बैकारेट खेलने का अनुभव,फ़ुटबॉल ऑड्स URL,उत्पत्ति कैसीनो उद्धरण,फुटबॉल लॉटरी बाजार और सूचकांक का विश्लेषण कैसे करें,आईपीएल नया टाइम टेबल,जैकपॉट v75,मेरे पास लाइव लाठी टेबल,लॉटरी 1 करोड़,लॉटरी जिम्बाब्वे,एनबीए पूर्व और पश्चिम रैंकिंग,साइन अप बोनस के साथ ऑनलाइन कैसीनो,ऑनलाइन पोकर कुर्स,पैरिमैच कैसे वापस लें,बिजली में पोकर,असली ड्रैगन टाइगर गेम डाउनलोड,अफवाहों पर राज करो,रमी वेरिएंट प्रश्नोत्तरी,स्लॉट मशीन चाबी का गुच्छा,खेल 69,स्पोर्ट्सबुक जोलियट,टेक्सास होल्डम माओस,कुल 1 लवबेट,ऑनलाइन बेटिंग कंपनी के लिए क्या रजिस्टर करें,एक्स-पोकर आमंत्रण कोड,ऋता स्टेटस,क्रिकेट cricbuzz,गोवा चर्च माहिती,ड्रैगन मास्टर,फुटबॉल हिंदी निबंध,बेटा व्हाट्सएप,लॉटरी पिक्चर, .‘कोयला संकट से 5,000 से अधिक लघु एवं मझोले उद्यमों को भारी नुकसान का अंदेशा’

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

‘कोयला संकट से 5,000 से अधिक लघु एवं मझोले उद्यमों को भारी नुकसान का अंदेशा’

नयी दिल्ली, 26 अक्टूबर (भाषा) मौजूदा कोयला संकट जारी रहने पर एल्युमीनियम मूल्य श्रृंखला से जुड़े 5,000 से अधिक लघु और मझोले आकार के उद्यमों (एसएमई) को भारी नुकसान का अंदेशा है। भारतीय औद्योगिक मूल्य श्रृंखला परिषद (आईआईवीसीसी) के अनुसार, यदि प्राथमिक एल्युमीनियम उद्योग के वर्तमान कोयला संकट का तत्काल समाधान नहीं किया गया तो इन एसएमई को भारी नुकसान उठाना पड़ेगा।

कोल इंडिया का घरेलू कोयला उत्पादन में 80 प्रतिशत से अधिक का योगदान है। कोल इंडिया ताप विद्युत संयंत्रों में कम स्टॉक की स्थिति को देखते हुए अस्थायी रूप से बिजली क्षेत्र को ईंधन आपूर्ति में प्राथमिकता दे रहर है।

आईआईवीसीसी के राष्ट्रीय संयोजक और सदस्य, अभय राज मिश्रा के हवाले से एक बयान में कहा गया है, ‘‘.. भारतीय एसएमई का एक बड़ा हिस्सा, जिनके व्यवसाय गहराई से एल्युमीनियम उद्योग से जुड़े हुए हैं, आज एक अंधकारमय भविष्य की ओर जा रहा है। गैर-बिजली कंपनियों, विशेष रूप से प्राथमिक एल्युमीनियम निर्माताओं के लिए कोयले की भारी कमी, इन संयंत्रों को जोखिम में डाल देती है। अचानक बंद होने से इनपर निर्भर देश भर के 5,000 से अधिक एसएमई के लिए काफी संकट की स्थिति पैदा हो जाएगी।’’

आईआईवीसीसी देशभर में औद्योगिक उत्पादन और उपभोग आपूर्ति श्रृंखला गतिविधियों में शामिल उद्यमों के हितों का प्रतिनिधित्व करने वाला संगठन है।

आईआईवीसीसी ने कहा कि कोयले की आपूर्ति बंद होने के साथ जीवाश्म ईंधन की भारी कमी न केवल प्राथमिक एल्युमीनियम उद्योग को प्रभावित कर रही है, बल्कि उद्योग से जुड़े बड़े निर्माताओं, एसएमई और सहायक उद्योगों को भी प्रभावित कर रही है। इससे संबंधित क्षेत्रों में कार्यरत लाखों लोग प्रभावित हो सकते हैं।

अगर वर्तमान अनिश्चित स्थिति का तुरंत समाधान नहीं किया जाता है, तो देश का फलता-फूलता विनिर्माण क्षेत्र भी संभावित रूप से प्रभावित हो सकता है। इसके अलावा प्रमुख उद्योगों को कच्चे माल और एल्युमीनियम की कमी से कई उद्योगों के आयात में वृद्धि होगी और निर्यात आय में कमी आएगी।

एल्युमीनियम संयंत्रों के लिए दो घंटे या उससे अधिक की बिजली की कटौती एक बड़ी समस्या बन सकती है और संयंत्रों के पूर्ण रूप से बंद करना पड़ सकता है। एक बार बंद होने के बाद, परिचालन पूरी तरह से बहाल होने में कम से कम 12 महीने लगते हैं।

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

As airlines inch back to normalcy, vacant middle seats are a cause of worry
Recent hit

As airlines inch back to normalcy, vacant middle seats are a cause of worry

11 mins read
Skill or chance? The USD7 billion question that can make or break India’s online gaming industry.
Policy and regulations

Skill or chance? The USD7 billion question that can make or break India’s online gaming industry.

13 mins read
Partying the Nolo way: New-age brands are offering choices beyond Pepsi and Coca-Cola
FMCG

Partying the Nolo way: New-age brands are offering choices beyond Pepsi and Coca-Cola

10 mins read
‘कोयला संकट से 5,000 से अधिक लघु एवं मझोले उद्यमों को भारी नुकसान का अंदेशा’

सर्वे में 20 से ज्‍यादा इंडस्‍ट्रीज की 1,200 कंपनियों की प्रतिक्रिया ली गई. इनमें से 1,000 ने इस साल वेतनवृद्धि के लिए कहा है.उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के विभिन्न फॉर्मेट में चुनौतियों और अड़चनों को दूर करने के लिए सीआईआई के तहत खुदरा सेक्‍टर के लोगों का मानना है कि सरकार को एक मजबूत रिटेल पॉलिसी लानी चाहिए.यूनियन बैंक ने आवास ऋण पर ब्याज दर घटाकर 6.40 प्रतिशत की

रोजगार संबंधी सेवाएं देने वाली वेबसाइट नौकरी डॉट कॉम के 'हायरिंग आउटलुक सर्वे' के अनुसार, नियोक्ता नए साल को लेकर आशावान लग रहे हैं.नयी दिल्ली, 26 अक्टूबर (भाषा) सार्वजनिक क्षेत्र की जलविद्युत कंपनी एनएचपीसी ने वित्त वर्ष 2020-21 के लिए सरकार को 249.44 करोड़ रुपये का अंतिम लाभांश दिया है। बिजली मंत्रालय ने मंगलवार को बयान में यह जानकारी दी। बयान के अनुसार, एनएचपीसी के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक एक के सिंह ने 26 अक्टूबर को केंद्रीय बिजली, नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री को इस बारे में भुगतान सूचना सौंपी। इस मौके पर बिजली सचिव आलोक कुमार भी मौजूद थे। इसके अलावा पांच मार्च, 2021 को कंपनी ने 890.85 करोड़ रुपये का अंतरिम लाभांश दिया था। इस तरह बीते वित्त वर्ष केनेशनल रिटेल पॉलिसी से 4 साल में पैदा होंगी 30 लाख नौकरियां : सीआईआई

नयी दिल्ली, 26 अक्टूबर (भाषा) सार्वजनिक क्षेत्र के यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने अपने आवास ऋण पर ब्याज दरों को घटाकर 6.40 प्रतिशत के सर्वकालिक निचले स्तर पर ला दिया है। नयी दरें 27 अक्टूबर से लागू होंगी। बैंक ने बयान में कहा कि उसके आवास ऋण पर ब्याज दर अब 6.40 प्रतिशत से शुरू होगी। यह बैंक के लिए अबतक की सबसे निचली आवास ऋण दर है। बैंक ने कहा कि नये ऋण के लिए आवेदन करने वाले ग्राहकों के अलावा अपने मौजूदा कर्ज को स्थानांतरित करने वाले उपभोक्ताओं को भी इसका लाभ मिलेगा।नयी दिल्ली, 26 अक्टूबर (भाषा) सैमसंग इंडिया इलेक्ट्रॉनिक्स का बीते वित्त वर्ष 2020-21 का शुद्ध लाभ 39 प्रतिशत बढ़कर 4,040.9 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। हालांकि, वित्त वर्ष के दौरान कंपनी की परिचालन आय 75,886.3 करोड़ रुपये पर स्थिर रही। इलेक्ट्रॉनिक्स क्षेत्र की दिग्गज कंपनी के भारत में कारोबार में मोबाइल फोन खंड का हिस्सा सबसे अधिक है। इससे पिछले वित्त वर्ष 2019-20 में कंपनी का शुद्ध लाभ 2,902.6 करोड़ रुपये और परिचालन आय 75,451.5 करोड़ रुपये रही थी। बाजार और कंपनी के बारे में सूचना देने वाली कंपनी टॉफलर ने कंपनी पंजीयक के पास जमा कराए गए दस्तावेजोंबीते वित्त वर्ष में सैमसंग इंडिया का शुद्ध लाभ 39 प्रतिशत बढ़ा, आय स्थिर

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


इंडीबेट लाइव कैसीनो
lovebet 365 दिन उपशीर्षक
कैश रियल मनी सिस बो
3 रील स्लॉट jio
टेक्सास होल्डम शर्तें
जोक जोक
क्लासिक रम्मी मेल आईडी
पांच सेटों में से सर्वश्रेष्ठ
बैकरेट पोकर डीलर
लाइव लाठी पोकरस्टार
फुटबॉल लॉटरी yoka
करीना कपूर प्रेगनेंसी
बैकरेट गेम फ्री सॉफ्टवेयर
लॉटरी शाम का परिणाम
ऑनलाइन कैसीनो मुफ्त बोनस कोई जमा नहीं
आर लॉटरी सांबाद
क्रिकेट ipl 2021
माणिक 8 बैकारेट
खेल भ तिलबुद
कैसीनो देवताओं
ऑनलाइन पोकर मनी
उत्पत्ति कैसीनो दस्तावेज़
ऑनलाइन कैसीनो baccarat क्या हैं?
lovebet शुक्रवार बोनस
रम्मी ऑर्डर
जी पोकर चिप
स्पोर्ट्स डे