लॉटरी या जैकपॉट

लॉटरी या जैकपॉट

time:2021-10-27 14:21:26 दिवाली से पहले बैंक कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, 15% बढ़ेगा वेतन Views:4591

दुनिया में शासन लॉटरी या जैकपॉट betway अकाउंट लॉक,fun88 मुख्यालय,lovebet 356,lovebet ग्रुप,lovebet स्पोर्ट्स,lovebet-यो,बैकारेट 97,बैकरेट को बेटिंग सॉफ्टवेयर जीतना होगा,भारत में सर्वश्रेष्ठ पांच वाशिंग मशीन,बोनस रीयूस,गोवा में कैसीनो खुला या बंद,शतरंज 600 रेटिंग,क्रिकेट या यूट्यूब,क्रिकेट वर्चुअल मीट एंड ग्रीट,एस्पोर्ट्स टाइगर,फ़ुटबॉल खाता खोलने वाला सट्टा,फ्री फुटबॉल लाइव,खुश किसान ऐलिस स्प्रिंग्स,फुटबॉल की बाधाओं को कैसे समझें,क्या बैकारेट के लिए कोई फार्मूला है,ख लॉटरी,लाइव कैसीनो सुपर सिक बो,लॉटरी मैं अंग्रेजी,लूडो सुप्रीम गोल्ड हैक,ऑनलाइन बैकरेट वेबसाइट,ऑनलाइन गेम मिनीक्लिप,कोविड वैक्सीन के लिए ऑनलाइन स्लॉट,प्वाइंट रम्मी हब,पोकर हाथापाई,रूले जैकपॉट dq11,रम्मी 99040,रम्मीकल्चर साइन अप बोनस,स्लॉट 9f वेगास,शामिल होने के लिए स्पोर्ट्स लॉटरी एजेंट,तीन पत्ती इक्का,बैकारेट निकासी के लिए सबसे तेज़ वेबसाइट,वीडियो बोर्ड गेम,बैकरेट ऑनलाइन खेलने के लिए किस वेबसाइट की अच्छी प्रतिष्ठा है,cricket पर निबंध,और लाटरी संबाद,क्रिकेट नेक्स्ट,चेस झारखंड,दस स्कोर मार्क सिक्स लॉटरी,बरसात डाउनलोड,रमी गुरु,स्टेटस जो हिला दे pic, .दिवाली से पहले बैंक कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, 15% बढ़ेगा वेतन

वेतन में यह बढ़ोतरी एक नवंबर 2017 से प्रभावी मानी गई है.
मुंबई : दिवाली से पहले बैंक कर्मचारियों के लिए खुशखबरी है. उनके वेतन में 15 फीसदी बढ़ोतरी का रास्‍ता साफ हो गया है. इंडियन बैंक्‍स एसोसिएशन (आईबीए) और सरकारी बैंक के कर्मचारियों के प्रतिनिधियों के बीच वेतनवृद्धि को लेकर रजामंदी बन गई है. इन बैंकों में कुछ पुराने प्राइवेट और विदेशी बैंक शामिल हैं. इसे लेकर दोनों पार्टियों के बीच एक करार पर हस्‍ताक्षर हुए हैं.

आईबीए ने बैंक कर्मचारी और अधिकारी संघों के साथ 11वीं द्विपक्षीय वेतनवृद्धि वार्ता नई सहमति के साथ सम्पन्न होने की बुधवार को घोषणा की. तीन साल की बातचीत के बाद बैंक कर्मचारी संघों और आईबीए ने 22 जुलाई को सालाना 15 फीसदी वेतनवृद्धि करने के लिए एग्रीमेंट पर हस्ताक्षर किए थे.

इसे भी पढ़ें : अगले साल 87% कंपनियां बढ़ाएंगी वेतन : सर्वे

आईबीए के सीईओ सुनील मेहता ने एक बयान में कहा, ''इंडियन बैंक्‍स एसोसिएशन कर्मचारी यूनियनों और अधिकारी संघों के साथ 11वीं द्विपक्षीय वेतनवृद्धि वार्ता सहमति से सम्पन्न होने की खुशी के साथ घोषणा करता है. यह एक नवंबर 2017 से प्रभावी माना गया है. समझौते में वेतन में 15 फीसदी की वृद्धि का प्रावधान है.''

इस संबंध में एक विस्तृत संयुक्त द्विपक्षीय समझौते पर चार कर्मचारी और चार अधिकारी संघों का प्रतिनिधित्व करने वाले यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस और बैंक कर्मचारी सेना महासंघ ने हस्ताक्षर किए हैं. नए वेतनवृद्धि से बैंकों पर सालाना 7,898 करोड़ रुपये का अतिरिक्त भार पड़ेगा.

इसे भी पढ़ें : क्‍या आप एमबीए करना चाहते हैं? ये 6 बातें करेंगी आपकी मदद

आईबीए ने बताया है कि सरकारी बैंकों में प्रतिस्‍पर्धा का माहौल बनाने और कर्मचारियों को प्रोत्‍साहित करने के लिए पहली बार परफॉरमेंस लिंक्‍ड इनसेंटिव (पीएलआई) का कॉन्‍सेप्‍ट शुरू किया गया है. यह स्‍कीम चालू वित्‍त वर्ष से शुरू होगी. पीएलआई स्‍कीम बैंक के ऑपरेटिंग प्रॉफिट/नेट प्रॉफिट पर आधारित होगी. यह प्राइवेट और विदेशी बैंकों के लिए वैकल्पिक होगी.

द्विपक्षीय एग्रीमेंट के जरिये बैंक कर्मचारी हर पांच साल में वेतनवृद्धि को लेकर आईबीए से वार्ता करते हैं. इस दौरान अन्‍य तरह के बेनिफिट पर भी चर्चा होती है. यह एक तरह का प्‍लेटफॉर्म है जो बैंक कर्मचारियों को सेवा की शर्तों में बदलाव पर बातचीत का मौका देता है.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

बैंक कर्मचारियों का वेतनद्विपक्षीय वेतनवृद्धि वार्ताअधिकारी संघवेतनवृद्ध‍िआईबीए

ETPrime stories of the day

After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?
Recent hit

After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?

9 mins read
Can Hero Electric keep going as Ather, Ola rev up e-scooters? One puzzle Naveen Munjal is solving.
Electric vehicles

Can Hero Electric keep going as Ather, Ola rev up e-scooters? One puzzle Naveen Munjal is solving.

11 mins read
Survival of the richest: why investment in conservation is horribly skewed
Environment

Survival of the richest: why investment in conservation is horribly skewed

6 mins read

आपको अपनी स्किल्‍स का पैसा मिलता है. इस बात का पता करें कि आप जैसी स्किल रखने वाले लोगों को बाहर कितनी सैलरी मिल रही है.पिछले साल से अब तक बड़े उतार-चढ़ाव हुए हैं. लोगों ने कोरोना की महामारी के कहर को देखा और अब जिंदगी को पटरी पर लौटते देख रहे हैं. शायद ही यह दौर भुलाए भूलेगा. हालांकि, इससे कई सबक भी मिले हैं. ये करियर में आगे बढ़ने में मदद कर सकते हैं. आइए, यहां उनके बारे में जानते हैं.भारत जलवायु प्रौद्योगिकी निवेश के मामले में दुनिया के शीर्ष 10 देशों में शामिल: रिपोर्ट

डिजिटल इकनॉमी में नए टैलेंट की जरूरत होगी. आइए, यहां टॉप रिक्रूटमेंट फर्मों से उन स्किल्‍स के बारे में जानते हैं जो सबसे ज्‍यादा डिमांड में हैं.नयी दिल्ली, 26 अक्टूबर (भाषा) सार्वजनिक क्षेत्र के यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने अपने आवास ऋण पर ब्याज दरों को घटाकर 6.40 प्रतिशत के सर्वकालिक निचले स्तर पर ला दिया है। नयी दरें 27 अक्टूबर से लागू होंगी। बैंक ने बयान में कहा कि उसके आवास ऋण पर ब्याज दर अब 6.40 प्रतिशत से शुरू होगी। यह बैंक के लिए अबतक की सबसे निचली आवास ऋण दर है। बैंक ने कहा कि नये ऋण के लिए आवेदन करने वाले ग्राहकों के अलावा अपने मौजूदा कर्ज को स्थानांतरित करने वाले उपभोक्ताओं को भी इसका लाभ मिलेगा।इसी महीने लिस्ट हुई इस कंपनी को हुआ 38 फीसदी का मुनाफा, जानें निवेशकों को कितना मिला है लाभांश

नौकरी जॉबस्पीक्स इंडेक्स की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, डिजिटल बदलाव की लहर में सूचना प्रौद्योगिकी-सॉफ्टवेयर क्षेत्र लगातार इससे बचा हुआ है.नयी दिल्ली, 28 अक्टूबर (भाषा) बजाज फाइनेंस का एकीकृत शुद्ध लाभ सितंबर में समाप्त चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में 53 प्रतिशत बढ़कर 1,481 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी (एनबीएफसी) बजाज फाइनेंस ने इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 965 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था। बजाज फाइनेंस ने बयान में कहा कि तिमाही के दौरान उसकी कुल आय 19 प्रतिशत बढ़कर 7,732 करोड़ रुपये पर पहुंच गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 6,520 करोड़ रुपये थी। तिमाही के दौरान कंपनी की ब्याज आय 16 प्रतिशत बढ़कर 5,763नेशनल रिटेल पॉलिसी से 4 साल में पैदा होंगी 30 लाख नौकरियां : सीआईआई

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
बैकरेट फ्री क्रैक प्लग-इन

नयी दिल्ली, 26 अक्टूबर (भाषा) अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) द्वारा भारत के संभावित वृद्धि दर के अनुमान को संशोधित कर छह प्रतिशत करना ‘अत्यधिक कम अनुमान’ है। 15वें वित्त आयोग के चेयरमैन एन के सिंह ने मंगलवार को यह बात कही। आईएमएफ ने कोरोना वायरस महामारी की वजह से भारत की वृद्धि की संभावना को नीचे किया है। सिंह ने अध्ययन एवं औद्योगिक विकास संस्थान (आईएसआईडी) द्वारा ‘विकास के लिए वित्तपोषण’ विषय पर आयोजित ‘ऑनलाइन’ परिचर्चा को संबोधित करते हुए कहा कि यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि जो लोग अभी गरीबी से बचे हुए हैं, वे महामारी

गति के लिए ऑनलाइन गेम की आवश्यकता

अगर आप फुलटाइम घर से काम कर रहे हैं और आपकी कंपनी टेलीफोन, इंटरनेट, प्रिंटिंग और स्‍टेशनरी जैसे कुछ खर्चों को रीइंबर्स कर रही है तो आपको इन खर्चों पर टैक्‍स देने की जरूरत नहीं है.

जोकर भूत की कहानी

जब संस्‍थान में किसी कर्मचारी को नौकरी छोड़ने के लिए कहा जाता है तो वे आमतौर पर चौंक जाते हैं. लेकिन, कई मामलों में इसके संकेत पहले से मिलने लगते हैं. बात सिर्फ इतनी होती है कि कर्मचारी इन संकेतों का मतलब समझकर सुधार की दिशा में कदम नहीं उठा पाते हैं. आइए, यहां ऐसे ही कुछ संकेतों के बारे में जानते हैं.

क्या मैं पैसे ऑनलाइन जुआ जीत सकता हूँ

(अदिति खन्ना) लंदन, 26 अक्टूबर (भाषा) भारत पिछले पांच वर्षों में जलवायु प्रौद्योगिकी निवेश के मामले में शीर्ष 10 देशों की सूची में नौवें स्थान पर है। भारतीय जलवायु प्रौद्योगिकी कंपनियों ने 2016 से 2021 तक उद्यम पूंजी (वीसी) निवेश के रूप में एक अरब डॉलर प्राप्त किए हैं। मंगलवार को लंदन में जारी एक नयी रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई। ‘‘लंदन एंड पार्टनर्स और डीलरूम.सीओ’’ द्वारा तैयार की गई रिपोर्ट 'पांच साल: पेरिस समझौते के बाद से वैश्विक जलवायु प्रौद्योगिकी निवेश के रुझान', में पेरिस में पिछले संयुक्त राष्ट्र

कैसीनो विला इगतपुरी

नयी दिल्ली, 26 अक्टूबर (भाषा) अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) द्वारा भारत के संभावित वृद्धि दर के अनुमान को संशोधित कर छह प्रतिशत करना ‘अत्यधिक कम अनुमान’ है। 15वें वित्त आयोग के चेयरमैन एन के सिंह ने मंगलवार को यह बात कही। आईएमएफ ने कोरोना वायरस महामारी की वजह से भारत की वृद्धि की संभावना को नीचे किया है। सिंह ने अध्ययन एवं औद्योगिक विकास संस्थान (आईएसआईडी) द्वारा ‘विकास के लिए वित्तपोषण’ विषय पर आयोजित ‘ऑनलाइन’ परिचर्चा को संबोधित करते हुए कहा कि यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि जो लोग अभी गरीबी से बचे हुए हैं, वे महामारी

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी